मां के साथ गई थी जीवित पुत्रिका व्रत पर तालाब में नहाने पैर फिसला और डूब गई

आरा/पीरो (सेराज खान ) : हसनबाजार ओपी के नोनार गांव में बड़ा दर्दनाक हादसा हुआ खुशियां पल भर में मातम में तब्दील हो गई. जीवित पुत्रिका त्योहार को लेकर गांव की महिलाओं व अपनी मां के साथ स्नान करने गयी दो किशोरिया तालाब के गहरे पानी में डूब गयी. इस घटना के बाद मातमी सन्नाटा के साथ कोहराम भी मच गया. किसी तरह गांव के लोगों ने दोनों के शव को गहरे पानी से बाहर निकाला. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार  कि नोनार गांव निवासी सूरज ठाकुर की दस वर्षीया पुत्री इति कुमारी उर्फ लक्ष्मी कुमारी  व रमेश रजक की चौदह वर्षीय पुत्री सीमा कुमारी जीवित पुत्रिका व्रत के मौके पर अपने परिवार व आस पडोस की  वर्ती महिलाओं के साथ स्नान करने के लिए गांव के बाहर स्थित तालाब में गयी थी . वहां स्नान करने के दौरान इति का पैर फिसल गया और वह गहरे पानी में डूबने लगी.इति को पानी में डूबते देखकर सीमा उसे बचाने के लिए पानी में उतरी पर वह इति को बचाने की जगह खुद  भी डूबने लगी. दोनों किशोरियों को पानी में डूबते देख वहां मौजूद महिलाओं ने शोर मचाना शुरू किया काफी देर तक चिल्लाती रही जब शोर सुनकर वहां लोग पहुंचे और पानी से दोनों को बाहर निकाला गया तब तक दोनों ने दम तोड़ दिया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!